जीतन राम मांझी ने एक बार फिर शराबबंदी के खिलाफ खोला मोर्चा, कहा- इसपर विचार करें सीएम नीतीश

1 min read

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने नालंदा में जहरीली शराब से मौत पर कहा है मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को शराबबंदी कानून पर सोचना और विचार करना चाहिए। जब पीएम कृषि कानून को वापस ले सकते हैं तो सीएम भी इस पर विचार करें।

शनिवार को गया में गोदावरी स्थित अपने आवास पर मांझी ने कहा कि शराब पर इतनी बार बोल चुके हैं कि अब इस पर बोलना बेईमानी लगता है। नांलदा ही नहीं और भी जगह पहले मौतें हुई हैं। हम बोलेंगे तो इसे भाजपा या कुछ और लोग दूसरी बात समझ जाते हैं। बिहार के सीएम नीतीश कुमार के लिए समीक्षा करना ही उचित होगा। 

उन्होंने कहा शराब बंद करना यह सिर्फ कह सकते हैं, लेकिन प्रैक्टिकल रूप से कर नहीं सकते हैं। 1991 शराब नीति में प्रावधान है कि कोई भी व्यक्ति शराब पीकर सार्वजनिक स्थान पर नहीं जा सकता है न किसी से झगड़ा कर सकता है। अब तो सुप्रीम कोर्ट भी कह रहा है कि जमानत का नंबर आने में ही समय लग जा रहा है।

source:- ht media